जन संदेश

पढ़े हिन्दी, बढ़े हिन्दी, बोले हिन्दी .......राष्ट्रभाषा हिन्दी को बढ़ावा दें। मीडिया व्यूह पर एक सामूहिक प्रयास हिन्दी उत्थान के लिए। मीडिया व्यूह पर आपका स्वागत है । आपको यहां हिन्दी साहित्य कैसा लगा ? आईये हम साथ मिल हिन्दी को बढ़ाये,,,,,, ? हमें जरूर बतायें- संचालक .. हमारा पता है - neeshooalld@gmail.com

Saturday, March 14, 2009

हिन्दी साहित्य मंच- हिन्दी उत्थान हेतु सामूहिक प्रयास ( नया ब्लाग मंच)


हिन्दी साहित्य मंच द्वारा एक सामूहिक प्रयास हिन्दी उत्थान हेतु । साहित्य के नये, युवा रचनाकार ,कविओं और हिन्दी साहित्य की अन्य विधाओं में उभरते हुए लोगों के लिए । यह मंच आपके सुझाव एवं आमंत्रण को स्वीकार करता हैं । इस प्रयास में आपकी भागीदारी अत्यंत आवश्यक और महत्तवपूर्ण है ।भाषा के विकास और गिरते स्तर को देखकर यह मंच स्थापित किया गया है ।

हमारी आपकी सहभागिता से ही विकास के पथ को अग्रसर किया जा सकता है । साथ ही एक महत्तवपूर्ण प्रश्न यह भी आता है कि हम किस तरह से कार्य करें कि सफलता के नये रास्ते और नये आयाम तक पहुंचा जा सके । आप अपनी बात कहें और आम सहमति से निर्णय लिया जायेगा।
इस तरह के और भी लोग सामूहिक प्रयास कर रहे हैं और सफल भी हुए है । तो आप भी क्यों न आपना अहम योगदान और प्रयास इस ' हिन्दी साहित्य मंच ' दें ।

आप अपना मेल और अपनी राय इस पते पर दें -www.hindisahityamanch@gmail.com

संचालक- हिन्दी साहित्य मंच ( हिन्दी साहित्य प्रेमियों का मंच)
मोबाइल नं-०९८१८८३७४६९

3 comments:

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

इस ब्लाग मंच से हमें भी लिखने का न्योता मिला है। पर जिस तरह आप ने मंच का उद्देश्य बताया है उस से लगता है कि इस ब्लॉग के लिए रचनाएँ सीधे प्रकाशित नहीं होनी चाहिए। बीच में संपादक को होना चाहिए। यही सोच कर मैं ने आमंत्रण का कोई उत्तर नहीं दिया है। जब भी कुछ लिखना होगा मेल से अपनी रचनाएँ पोस्ट कर दूंगा।

सुशील कुमार छौक्कर said...

आपका न्योता मिला। पर मैं इतना ज्यादा नही लिख पाता। ह्फ्ते द्स दिन में एक आध पोस्ट ही कर पाता हूँ अपने ब्लोग पर। ज्यादा लिख नही सकता इसलिए आपका न्योता स्वीकार नही कर पाया।

cmpershad said...

सब तो अपने अपने ब्लाग पर लिख ही रहे हैं तो इसे पोस्ट का उद्देश्य साफ नहीं हो पाया है। शायद कुछ विस्तृत चर्चा की आवश्यकता है!