जन संदेश

पढ़े हिन्दी, बढ़े हिन्दी, बोले हिन्दी .......राष्ट्रभाषा हिन्दी को बढ़ावा दें। मीडिया व्यूह पर एक सामूहिक प्रयास हिन्दी उत्थान के लिए। मीडिया व्यूह पर आपका स्वागत है । आपको यहां हिन्दी साहित्य कैसा लगा ? आईये हम साथ मिल हिन्दी को बढ़ाये,,,,,, ? हमें जरूर बतायें- संचालक .. हमारा पता है - neeshooalld@gmail.com

Friday, March 6, 2009

चांद ना मिला पर फिल्म तो मिल गयी है....................... अब बदलेगी फिजाएं फिजा जी


कुछ गलत तो कुछ सही हो ही रहा है अनुराधा बाली से बनी फिजा की जिंदगी में । आम न सही तो गुठली ही सही । धर्म परिवर्तन करके हरियाणा के पूर्व डिप्टी सीएम से शादी रचायी । मामला इतना उलझा कि आज तक सुलझने की कोई उम्मीद नहीं । प्यार और साथी दोनों का साथ ऐसे छूटा की जैसे हाथ से मैल । ये प्यार था क्या? पर किसी बच्चों के गुडिया गुड्डे के खिलौने से क्या कम रहा । यह प्रकरण को मीडिया ने अच्छी हवा देकर आग को और प्रज्वलित कर दिया और इस आग से सभी चै नलों ने खूब रोटी , दाल,चावल सब कुछ तैयार किया ।

यह घटना हमारे समाजिक सरोकार से जुड़ी होने के नाते हम सभी कहीं न कहीं अप्रत्यक्ष रूप से प्रभावित हुए । धार्मिक बाजार में गजब की बहस जारी रही । कोई किसी को अपने के बराबर का समझने की गलती भला कैसे करे.....................? हम तो सबसे अच्छे हैं , हमारा धर्म तुमसेअच्छा है कुछ ऐसे ही सही गलत का विवाद चलता रहा । कुछ खास हाथ न आया किसी के । अगर कुछ मिला तो उसमें मीडिया , फिजा और हम................इसके अलावा किसी को खास कुछ ना मिला ।



मामला कोर्ट कचहरी से होता हुआ अब फिल्मों तक जा पहुँचा है । खबर को अगर सही माना जाये तो फिजा अब बालीबुड में कमाल खान की देशद्रोही भाग-२ में नजर आयेंगी। कमाल खान की देशद्रोही दर्शको को इतना भायी की वे सिनेमाहाल तक जाने की जहमत न उठा सके। ओफिल्म ने सिल्वर स्क्रीन पर कुछ न मागा । आयी और चलती बनी । फिल्म मराठी और गैर मराठी मुद्दे पर होगी । फिजा जी एक बवाल तो पहले ही कर चुकी है..........लगता है बालीबुड और महाराष्ट्र में भी भूचाल आयेगा आपकी चाल से । चलिये देखते हैं की इस बार क्या और कितना चलता है ? क्या फिजाएं फिर से बदलेंगी ।


चलो अच्छा है चांद न मिले तो क्या ? फिल्म तो मिल ही गयी है फिजा जी.....

3 comments:

अंशुमाली रस्तोगी said...

फिजा को बधाई!

अनिल कान्त : said...

बधाई हो बधाई

Udan Tashtari said...

अभी बधाई दे देते हैं, फिर फिल्मों में देखेंगे.