जन संदेश

पढ़े हिन्दी, बढ़े हिन्दी, बोले हिन्दी .......राष्ट्रभाषा हिन्दी को बढ़ावा दें। मीडिया व्यूह पर एक सामूहिक प्रयास हिन्दी उत्थान के लिए। मीडिया व्यूह पर आपका स्वागत है । आपको यहां हिन्दी साहित्य कैसा लगा ? आईये हम साथ मिल हिन्दी को बढ़ाये,,,,,, ? हमें जरूर बतायें- संचालक .. हमारा पता है - neeshooalld@gmail.com

Wednesday, September 5, 2007

चक दे इण्डिया


भारतीय हाँकी टीम इन दिनों चेन्नई में चल रहे एशिया कप में अपना परचम लहरा रही है भारत ने अपने खेले सभी ४ मुकाबले में जीत दर्ज करके अपने ग्रुप से सबसे ऊपर १२ अंको के साथ विराजमान है।भारत का पहला मुकाबला चीन जैसी कडी टीम से हुआ ।भारत के लिए पहला मुकाबला जीतना आसान काम नहीं था परन्तु अच्छे क्षेत्ररक्षण और डिफेन्स की वजह से भारत ने चीन को १-० से परास्त किया। इस जीत से भारतीय टीम का आत्मविश्वास काफी बढा जो कि आगे मैचों मे देखने को मिला। दूसरा मुकाबला श्रीलंका से था। जिसमें भारतीय खिलाड़ियों ने धुआधार गोल किये और गोल की बरसात की ।भारत ने इस मैच को २०-० के अन्तर से जीत कर सेमीफाइनल में प्रवेश करने के रास्ते को आसान कर लिया ।इसके पहले १९३३ के ओलम्पिक में भारत ने अमेरिका को २४-१ से परास्त किया था।तीसरा मुकाबला दक्षिण कोरिया जैसी मजबूत टीम से रहा। परन्तु भारतीय खिलाडियो ने अपना हौसला कायम रखा तथा विजय अभियान को आगे बढ़ाते हुए कोरिया को भी ३-२ से करारी शिकस्त दी । अब बारी थी बाग्लादेश की जो की हारने के लए अपनी बारी का इंतजार कर रही थी और एक औपचारिक मैच हुआ। भारतीय टीम ने बाग्लादेश पर ६-० से पटकनी दी। और सेमी फाइनल में पहुचने वाली पहली टीम बन गई है।सबसे खास बात यह है कि भारत ने अब तक ३० गोल किये है। पूल ए में मलेशिया ने ३ मैच में ३ मैच जीते है तथा दूसरे स्थान पर पाकिस्तान ३ में से २ मैच जीते है तथा ६ अंक है ।जापान ने ३ में से २ मैच जीतकर ६ अंक हासिल किये है। हांगकांग ने ४ मे से १ मैच जीत के साथ ३ अंक है। तथा सिगांपुर को अभी भी कोई अंक हासिल नही हो सका है। तथा पूल बी मे भारत ४ में से चार मैच जीत कर १२ अंक हासिल कर तालिका में पहले स्थान पर है । दक्षिण कोरोया ने ३ मैच में २ मैच जीते तथा ६ अंको के साथ दूसरे पारदान पर है चीन भी ३ मे से २ मैच जीत कर तीसरे स्थान पर है इसके भी ६ अंक है । और बाग्लादेश ने ४ मैच मे २ मैच मे जीत दर्ज की है तथा ६ अंक हासिल किया है श्रीलंका और थाईलैण्ड को अभी अपना खाता खोलना बाकी है।अतः इस प्रतियोगिता मे भारत काफी मजबूत स्थिति में है। यह कप भारत के ही नाम हो यही मेरी कामना है। चक दे इण्डिया

3 comments:

Sagar Chand Nahar said...

भारतीय को बधाई और कामना करते हैं इसी तरह जीतते हुए एशिया कप जीते।
॥दस्तक॥,गीतों की महफिल

Neeraj नीरज نیرج said...

भारतीय हॉकी टीम अच्छा खेलती रहेगी बशर्ते हम भी रुचि लें। प्रोत्साहन से उत्साह बढ़ता है। चक दे ने लोगों में हॉकी के प्रति रुचि कुछ दिनों के लिए जगा दी है। जब तक टाकीज में पिक्चर टंगी रहेगी तब तक लोग स्टेडियमों में उतरेंगे। जब पिक्चर उतरेगी तो लोग-बाग फिर हॉकी टांग देंगे।

सलाह- पैरा बनाकर लिखें.. इससे पाठकों को आसानी होगी।

mahashakti said...

बढि़यॉं लिखा है, नीरज भाई की बात पर गौर फरमाइऐ