जन संदेश

पढ़े हिन्दी, बढ़े हिन्दी, बोले हिन्दी .......राष्ट्रभाषा हिन्दी को बढ़ावा दें। मीडिया व्यूह पर एक सामूहिक प्रयास हिन्दी उत्थान के लिए। मीडिया व्यूह पर आपका स्वागत है । आपको यहां हिन्दी साहित्य कैसा लगा ? आईये हम साथ मिल हिन्दी को बढ़ाये,,,,,, ? हमें जरूर बतायें- संचालक .. हमारा पता है - neeshooalld@gmail.com

Thursday, May 21, 2009

पूर्व प्रेमी का खत - हास्य

यह किसी अखबार में प्रकाशित और वाया ईमेल हमें प्राप्त हुई । आप भी आनंदित हो इसे पढ़कर ।


1 comment:

SWAPN said...

padha bhai bada anand aya,
st april chali gai,
ab kyun humko phool banaya.